Meri Priya Pustak in Hindi: मेरी प्रिय पुस्तक पर निबंध

क्या आप भी “Meri Priya Pustak in Hindi” की तलाश कर रहे हैं? यदि हां, तो आप इंटरनेट की दुनिया की सबसे बेस्ट वेबसाइट essayduniya.com पर टपके हो. यदि आप Meri Priya Pustak in Hindi, Meri priya pustak par essay, Meri priya pustak par nibandh, Meri Priya Pustak Anuched, Meri priya kitab in Hindi, Meri priya kitab essay in Hindi, My favourite book short essay, My favorite book Paragraph, Essay on my Favourite book, My Favourite book Essay PDF यही सब सर्च कर रहे हैं तो आपका इंतजार यही पूरा होता है..

Meri Priya Pustak in Hindi

यहां हम आपको “Meri Priya Pustak in Hindi” उपलब्ध करा रहे हैं. इस निबंध/ स्पीच को अपने स्कूल या कॉलेज के लिए या अपने किसी प्रोजेक्ट के लिए उपयोग कर सकते हैं. इसके साथ ही यदि आपको किसी प्रतियोगिता के लिए भी Meri priya pustak par essay तैयार करना है तो आपको यह आर्टिकल पूरा बिल्कुल ध्यान से पढ़ना चाहिए.

Meri Priya Pustak in Hindi 100 Words (Meri priya pustak par essay)

मुझे किताब पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। पुस्तक इंसान के जीवन से अज्ञानता दूर करती हैं। पुस्तक ही इंसान को संस्कार देती है। हम सभी के जीवन में पुस्तक का विशेष महत्व होता है। मेरे जीवन में सबसे महत्वपूर्ण पुस्तक महात्मा गांधी जी द्वारा लिखी गई “सत्य के प्रयोग” है। इस किताब में महात्मा गांधी ने सत्य के बारे में बताया है, कि सत्य छुप सकता है ,गिर सकता है, पर कभी पराजित नहीं हो सकता। व्यक्ति को जीवन में सदैव सत्य की राह पर चलना चाहिए। कभी भी अपने फायदे या किसी को नुकसान पहुंचाने के लिए झूठ का सहारा नहीं लेना चाहिए। यह पुस्तक व्यक्ति को आदर्श व्यक्ति बनने के लिए प्रेरित करती है, इसलिए मुझे यह पुस्तक इतनी प्रिय है।

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join

दहेज प्रथा पर निबंध

विज्ञान के चमत्कार निबंध

प्रदूषण पर निबंध

गाय पर निबंध

Meri Priya Pustak Essay 200 words (Essay on my Favourite book)

पुस्तक को ज्ञान का भंडार माना जाता है। इसी ज्ञान से व्यक्ति सफल और महान बनता हैं। पुस्तक हमारी सच्ची मित्र होती है। अच्छी पुस्तकें हमें सदैव अच्छा रास्ता दिखाती है। मेरी प्रिय पुस्तक रामचरित्र मानस‘ है। जिसे सभी किताबों का संग्रह भी कहा जा सकता हैं। इस पुस्तक में भगवान श्री राम के चरित्र की व्याख्या की गई है। यह पुस्तक मुझे धर्म पर चलने के लिए प्रेरित करती है।

Meri Priya Pustak in Hindi
Meri Priya Pustak in Hindi

भगवान राम के चरित्र से मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला है। भगवान राम का चरित्र मेरे लिए प्रेरणा का स्त्रोत है। यह पुस्तक मुझे इसलिए इतनी प्रिय है, क्योंकि इसमें जीवन के सभी आधार मूल्यों के बारे में बताया गया है। इस पुस्तक में अन्याय, अधर्म हिंसा, अपराध से मुक्त रहने की शिक्षा मिलती है। यह पुस्तक एक आदर्श पुस्तक है, जो व्यक्ति को नर्क से स्वर्ग तक लेकर जाती है।

My Favourite book Essay 300 words (Meri priya pustak par nibandh)

पुस्तक ज्ञान का महासागर होती है। जो व्यक्ति को जीवन से अंत तक ज्ञान देती है। छोटे बच्चे के बचपन से लेकर बुढ़ापे तक सभी लोग किताबों से ज्ञान प्राप्त करते रहते हैं। किताबें इंसान के चरित्र निर्माण में अहम भूमिका निभाती है। मेरी प्रिय पुस्तक श्री भगवत गीता है। जिसे हिंदू धर्म मेंं सबसे प्रथम ग्रंथ माना जाता है। भगवत गीता में इंसान को जीवन जीने के लिए क्या करना चाहिए ,यह सब सीख मिलती है। भगवत गीता में सत्य-असत्य से जुड़ी कई सारी बातों का वर्णन किया गया है।

इसमें व्यक्ति को अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना न्याय के लिए लड़ना ,कमजोर व्यक्ति की मदद करना, हमेशा सत्य का साथ देना ऐसे अमूल्य गुणों के बारे में बताया गया है। अगर व्यक्ति ऐसी पुस्तक का अध्ययन करें, तो वह जीवन में कभी दुखी नहीं होगा, यही गीता का सार कहता हैं। आज गीता का अध्ययन सभी जाति-धर्म के लोग करते हैं, इसमें लोगों को एक-दूजे की सहायता करने की प्रेरणा मिलती है। जीवन में आने वाले सभी प्रश्नों का हल गीता में मौजूद है। इसमें लिखा एक-एक शब्द श्री कृष्ण के मुख से निकला हुआ है।

गीता का उपदेश श्री कृष्ण ने अर्जुन को महाभारत के युद्ध के समय दिया था। जब अर्जुन ने अपने परिजनों से युद्ध करने के लिए इंकार किया था। तब श्री कृष्ण ने सत्य-असत्य, धर्म-अधर्म के बारे में समझाने के लिए अर्जुन को गीता का ज्ञान दिया था। यह किसी धर्म विशेष का ग्रंथ नहीं, बल्कि मानवता का ग्रंथ है। इसे पढ़ने से मनुष्यों के पाप कम होते हैं। यह व्यक्ति के जीवन जीने के नजरिए को ही बदल देती है। इसमें ऐसी कई बातें बताई गई हैं, जिन्हें जानकर व्यक्ति का जीवन पूरी तरह सरल हो जाता है। इसे पढ़ने के बाद मुझे मेरे जीवन में बड़ी शांति महसूस हुई, इसलिए इसे मैंने अपनी प्रिय पुस्तक कहा है। यह मेरे लिए ज्ञान का भंडार है, जिससे मैं थोड़ा-थोड़ा कर ज्ञान एकत्रित कर रहा हूं।

Meri priya pustak par essay

हमारे सभी प्रिय विद्यार्थियों को इस “Meri Priya Pustak in Hindi” जरूर मदद हुई होगी यदि आपको यह Meri priya pustak par essay अच्छा लगा है तो कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको यह Meri Priya Pustak in Hindi कैसा लगा? हमें आपके कमेंट का इंतजार रहेगा और आपको अगला Essay या Speech कौन से टॉपिक पर चाहिए. इस बारे में भी आप कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं ताकि हम आपके अनुसार ही अगले टॉपिक पर आपके लिए निबंध ला सकें.

दहेज प्रथा पर निबंध

विज्ञान के चमत्कार निबंध

प्रदूषण पर निबंध

गाय पर निबंध

शिक्षक दिवस पर निबंध

JOIN TELEGRAM GROUP CLICK HERE
ESSAYDUNIYA HOME CLICK HERE

Leave a Comment